Sachin Tendulkar

Sachin Tendulkar , क्रिकेट जगत का एक ऐसा नाम जो दुनिया में क्रिकेट के भगवान् के रूप में पूजा जाता है. सचिन अपने खेल और हुनर से उस मुकाम तक पहुचे जहा हर किसी खिलाड़ी का सपना होता है. सचिन ने क्रिकेट को नयी पहचान दी. अपने करियर में Sachin Tendulkar ने जितनी भी सफलता प्राप्त की शायद ही कोई दूसरा खिलाड़ी कर सके. सचिन अपने खेल से हर किसी के लिए मिसाल बन गये.

लेकिन उनके जीवन में एक ऐसा मोड़ भी आया जब उनके ऊपर एक ऐसा आरोप लगा जिसने सबको हैरान कर दिया. सचिन पर एक मैच में आरोप लगा की उन्होंने गेंद से छेर छाड़ की है. जिसके बाद से पुरे क्रिकेट जगत में हंगामा मच गया किसी को भी इस बात पर विश्वास नहीं था.

 

जी हां , क्रिकेट के भगवान् Sachin Tendulkar की जिन्दगी में एक ऐसा दिन भी आया जब उन्हें इस घिनौने आरोप का सामना करना पड़ा. सचिन क्रिकेट इतिहास में इमानदार खिलाडियों की सूचि में सबसे आगे रहे है. वे अंपायर के आउट न देने पर भी क्रीज़ छोड़ कर चले जाते थे अगर उन्हें पता होता था की वे आउट हो गए है. ऐसे में ये आरोप उनके और उनके प्रशंसको के लिए एक बड़ा झटका था.

 

Sachin Tendulkar के साथ ये दुर्भाग्यपूर्ण लम्हा 2001 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ दुसरे टेस्ट मैच के दौरान आया. गांगुली की कप्तानी में खेल रही टीम इंडिया ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जिसके बाद अफ्रीका के बल्लेबाजो ने शानदार बल्लेबाजी कर सौरभ के फैसले को गलत साबित कर दिया. गेंदबाजों की हो रही पिटाई के चलते सौरभ ने सचिन से गेंदबाजी कराने का फैसला किया. ऐसे में सचिन की गेंद दुसरे गेंदबाजों से ज्यादा असरदार साबित होती दिख रही थी जिसके कारण सबकी निगाहें सचिन पर टिक गयी की ऐसा क्यों हो रहा है. और साथ ही जब Sachin Tendulkar गेंद को साफ़ कर रहे थे तो उनकी तस्वीरे कैमरा में कैद कर स्क्रीन पर चला दी गयी की उन्होंने गेंद से छेर छार की है.

 

Sachin Tendulkar

 

 

कोई भी प्रशंसक और खिलाड़ी इस बात को मानने को तैयार नहीं था की सचिन ऐसा कर सकते है. मामले ने आग पकड़ ली. सचिन पर मैच का बैन लगा दिया गया. मैच के रेफरी माइक डेनिस ने सचिन के साथ साथ अन्य खिलाडियों पर भी मैच में ज्यादा अपील करने का आरोप लगते हुए उन्हें भी एक एक मैच बाहर बैठने को कहा गया और कप्तान गांगुली पर एक टेस्ट और दो वन डे के लिए बैन कर दिया गया. जिसके बाद भारतीय प्रशंसक सडको पर आ गए. और BCCI के खिलाफ हो गये.

 

Sachin Tendulkar

 

 

मास्टर ब्लास्टर Sachin Tendulkar पर ये आरोप किसी को गवारा नहीं था जिसके बाद जांच कमिटी बुलाई गयी और मैच के रेफरी रहे डेनिस को आरोप सिद्ध करने को कहा गया. जिसमे माइक डेनिस असफल रहे और सचिन के साथ सभी खिलाडियों पर से बैन हटाते हुए डेनिस को उनके पद से हटा दिया गया. साउथ अफ्रीका और भारत के बीच वो मैच ड्रा रहा.

 

अन्य प्रष्ठ :

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *